« first day (897 days earlier)      last day (1150 days later) » 

12:02 AM
0
Q: Who is the 'certain brāhmaṇa of pious vows' in this conversation between Kṛṣṇa and Aśvatthāmā?

sv.From http://www.sacred-texts.com/hin/m10/m10016.htm: Vaishampayana said, "Understanding that that weapon was thrown (into the wombs of the Pandava women) by Drona's son of sinful deeds, Hrishikesha, with a cheerful heart, said these words unto him: ‘A certain brahmana of pious vows, beholding...

 
 
5 hours later…
4:35 AM
0
Q: Speed of light in vedas

Pythagorean MysticIs there any truth to the following? Below is the mathematical calculations of a research done by S S De and P V Vartak on the speed of light calculated using the Rigvedic hymns and commentaries on them. The fourth verse of the Rigvedic hymn 1:50 (50th hymn in book 1 of rigveda) is as follows: ...

 
 
5 hours later…
9:55 AM
याज्ञिक दृष्टि के अनुसार वेदोक्त यज्ञों का अनुष्ठान ही वेद के शब्दों का मुख्य उपयोग माना गया है। सृष्टि के आरम्भ से ही यज्ञ करने में साधारणतया मन्त्रोच्चारण की शैली, मन्त्राक्षर एवं कर्म-विधि में विविधता रही है। इस विविधता के कारण ही वेदों की शाखा का विस्तार हुआ है। प्रत्येक वेद की अनेक शाखाएँ बतायी गयी हैं। continue
यथा-ऋग्वेद की 21 शाखा, यजुर्वेद की 101 शाखा, सामवेद की 1,000 शाखा और अथर्ववेद की 9 शाखा- इस प्रकार कुल 1,131 शाखाएँ हैं। इस संख्या का उल्लेख महर्षि पतञ्जलि ने अपने महाभाष्य में भी किया है। continue...
अन्य वेदों की अपेक्षा ऋग्वेद में मन्त्र-संख्या अधिक है, फिर भी इसका शाखा-विस्तार यजुर्वेद और सामवेद की अपेक्षा कम है। इसका कारण यह है कि ऋग्वेद में देवताओं के स्तुति रूप मन्त्रों का भण्डार है। स्तुति-वाक्यों की अपेक्षा कर्मप्रयोग की शैली में भिन्नता होनी स्वाभाविक है। अत: ऋग्वेद की अपेक्षा यजुर्वेद की शाखाएँ अधिक हैं। गायन-शैली की शाखाओं का सर्वाधिक होना आश्चर्यजनक नहीं है। अत: सामवेद की 1000 शाखाएँ बतायी गयी हैं। continue...
फलत: कोई भी वेद शाखा-विस्तार के कारण एक-दूसरे से उपयोगिता, श्रद्धा एवं महत्त्व में कम-ज़्यादा नहीं है। चारों का महत्त्व समान है। उपर्युक्त 1,131 शाखाओं में से वर्तमान में केवल 12 शाखाएँ ही मूल ग्रन्थों में उपलब्ध हैं।
@ParthasarathyRaghavan ^^
 
 
7 hours later…
5:18 PM
0
Q: Ramayana - ravana and lakshman

user74742In the end of the holy war when Ravana was just going to die, Lord Ram asked his brother Lakshman to go and gain knowledge from Ravana? Why did he do so and what exactly was the knowledge lord rama was talking about?

 
 
2 hours later…
7:14 PM
0
Q: Who is the current Asurapati

YogiThe Leader of Asuras, also known as Asurapati. Since the only one alive is Raja Bali who is now under protection of Shriman Narayana in the form of Vamana avtar. If he is in some other place and not ruling Asuras who is current Asurapati.

 

« first day (897 days earlier)      last day (1150 days later) »